Home सूरजपुर कब मिलेगी झोलाछाप डॉक्टरों से मुक्ति —

कब मिलेगी झोलाछाप डॉक्टरों से मुक्ति —

68
SHARE

स्वास्थ मंत्री के जिले में झोलाछाप डॉक्टरो का आतंक बे रोकटोक जारी एक सप्ताह में हुई दूसरी मौत…….

सूरजपुर /रामानुजनगर-यहां लगातार झोलाछाप फ़र्ज़ी डॉक्टरों का आतंक जारी है अभी एक सप्ताह भी नहीं हुवा है इनके ईलाज से एक नवयुवक की मौत हुए की आज एक और खबर निकल कर आई की एक अप्रशिक्षित फ़र्ज़ी झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से एक और ग्रामीण गरीब व्यक्ति की मौत हो गई है।
इस मामले में प्राप्त जानकारी के अनुसार रामानुजनगर विकाशखण्ड के तिउरागुड़ी के पंडरीपानी में एक 48 वर्षीय व्यक्ति को 3 महीना पूर्व पेट में एक छोटा सा जख्म हो गया था जिसकी जानकारी गांव के ही एक झोलाछाप डॉक्टर को लगी तो उसने बीमार व्यक्ति के घर जाकर उसे ईलाज कर ठीक कर देने का वादा किया था मृत व्यक्ति उसके झांसे में आ गया झोलाछाप डॉक्टर ने उस जख्म का ईलाज करते हुए मरीज़ के घर पर ही उसे जमीन में लेटाकर ब्लेड पत्ती से उसके जख्म को फाड़कर ऑपरेशन कर दिया था यही ऑपरेशन उसके लिए मौत का बहाना बन गया इस के बाद मृत मरीज के पेट में इंफेक्शन होने लगा यही छोटा घाव इतना गहरा हो गया कि उसके पेट की आते बाहर से स्पष्ठ दिखाई देने लगी खाना खाने से पूरा खाना सीधे पेट से बाहर आने लगा था ।जब स्थानीय लोगो ने इस झोलाछाप को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया तो झोलाछाप फ़र्ज़ी डॉक्टर तुरन्त उसे आनन फानन में रामानुजनगर अस्पताल लेकर आया लेकिन यहां के अस्पताल वालों ने उसके गंभीर हालत को देखते हुए अम्बिकापुर रेफर कर दिया था जहां के डॉक्टरों ने इसे कैंसर होना बताया और आगे के ईलाज के लिए रायपुर रेफर कर दिया था लेकिन वहां से भी डॉक्टरों ने जवाब दे दिया तब यह गरीब व्यक्ति वापस अपने घर अभी एक सप्ताह पहले आ गया था और अब उसके मौत की खबर आ रही है।
ज्ञात हो की रामानुजनगर में गांव गांव में झोलाछाप डॉक्टर बहुत अधिक सक्रिय हैं ये लोग बिना किसी प्रकार की पढ़ाई किए बिना गांव के मरीजों का ईलाज करते हैं इन्हें दवाओ का भी कोई जानकारी नहीं होता है फिर भी बेधड़क मरीजो को सुई बॉटल चढा रहे हैं इस बात की जानकारी प्रशासन को है फिर भी इनपर कोई कार्यवाही नहीं कि जाती है ।यह जिला स्वास्थ्य मंत्री का प्रभारी जिला है और यहां यह हाल कहीं न कहीं हजारो सवाल खड़ा करता है आखिर कब लोगो को सही न्याय मिल पाएगा।

सूरजपुर से नंदलाल यादव की रिपोर्ट