Home Breaking News लैलूंगा अंधे क़त्ल का खुलासा —

लैलूंगा अंधे क़त्ल का खुलासा —

596
SHARE

जिला क्राईम स्काट,व लैलूंगा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ,बोलेरो वाहन लूट की मंशा से आरोपियों ने दिया था घटना को अंजाम …..

रायगढ़ / बीते दिनों  थाना लैलूंगा अन्तर्गत ग्राम कर्राहन में गांव बस्ती के बाहर बिहिबाड़ी में एक अज्ञात पुरूष उम्र करीब 25-30 वर्ष का शव पड़ा होने की सूचना लैलूंगा पुलिस को हुआ मिला था, जिस पर एस.डी.आ.पी. धरमजयगढ, लैलूंगा पुलिस मौके पर पहुंची, जहां अज्ञात शव गांव बस्ती से बाहर धरमसिंह के खेत टिकरा में नग्न अवस्था में पड़ा था, मृतक के बांये भौंव के ऊपर चोट से खून निकला हुआ था,पुलिस द्वारा शव का पोस्ट मार्टम कराये जाने पर डाक्टरों ने मृत्यु की वजह हत्या होना बतलाया , ये जानने पर थाना लैलूंगा में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302 के तहत अपराध दर्ज कर जाचं शुरू किया गया । अज्ञात मृतक की शिनाख्तगी के लिये थाना प्रभारी लैलूंगा द्वारा जिले के सभी थाना / चौकी प्रभारियों को सूचित किया गया । इसी बीच दिनांक 12.12.18 को मृतक के छोटे भाई जय प्रकाश एक्का ने अज्ञात मृतक की पहचान अजय एक्का पिता पत्रिका एक्का उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम करकली थाना कुसमी ‍जिला बलरामपुर के रूप में किया । मृतक का भाई जय प्रकाश एक्का व दोस्त कुश कुमार सोनी ने लैलूंगा पुलिस को बताया कि मृतक अजय एक्का दिनांक 06.12.18 को अपने बोलेरो वाहन लेकर अम्बिकापुर से लैलूंगा की बुकिंग लेकर आया था । मामले में अज्ञात आरोपी की पतासाजी के दरम्यान विवेचना टीम को पता चला कि मृतक अजय एक्का की बोलेरो वाहन सफरूल्ला उर्फ शरफरूदीन निवासी अम्बिकापुर ने लैलूंगा के लिये गाडी बुक कराया था, क्राईम ब्रांच पुलिस ने सफरूल्ला उर्फ शरफरूदीन से पूछताछ करने पर उसने बताया कि सफरूल्ला उर्फ शरफरूदीन, इरसाद आलम निवासी टांगरटोली जिला जशपुर और इरसाद आलम का दोस्त मोआवजुद्दीन निवासी टांगरटोली एक साथ अम्बिकापुर से बोलेरो वाहन में बैठकर लैलूंगा आये और तीनों ने बोलेरो लूट की योजना बनायी थी और पूर्व नियोजित प्लान के तहत ग्राम कर्राहन के जंगल में अजय एक्का की गला दबाकर तथा  पत्थर से सिर पर चोट पहुंचाकर उसकी हत्या कर दिये और साक्ष्य छिपाने की नियत से अजय एक्का को निर्वस्त्र कर उसके चेहरे को पत्थर से चोट कर बिगाड़ दिया और जंगल में फेंककर बोलेरो वाहन को रांची ले गये । सफरूल्ला उर्फ शरफरूदीन से हुई पूछताछ के आधार पर घटना के आरोपी इरसाद आलम और उसके दोस्त मोआवजुद्दीन निवासी टांगरटोली को क्राईम ब्रांच व लैलूंगा पुलिस हिरासत में लिये, जिनसे पूछताछ करने पर दोनों ने अपना जुर्म कबूल करते हुए लूटी गई वाहन बोलेरो CG 15B -3074, मृतक का मोबाईल बरामद  करा दिया । उपरोक्त अंधे कत्ल का खुलासा करने में क्राईम ब्रांच रायगढ़ व लैलूंगा पुलिस की महत्वपूर्ण भूमिका रही है ।